Tuesday, July 16, 2024

31.1 C
Delhi
Tuesday, July 16, 2024

Homeप्रदेशपहली मानसूनी बारिश में 'डूबा' देहरादून, चौक-चौराहे जलमग्न, सीवर ओवरफ्लो

पहली मानसूनी बारिश में ‘डूबा’ देहरादून, चौक-चौराहे जलमग्न, सीवर ओवरफ्लो

हर बार की तरह इस साल भी दूनवासियों को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। दून में मानसून की पहली तेज बारिश से पूरा शहर पानी-पानी हो गया। कई प्रमुख क्षेत्रों में दुकानों और घरों में पानी घुस गया। रिस्पना-बिंदाल समेत सभी नदी-नाले उफान पर आ गए, जिससे आसपास की बस्तियों को खतरा हो गया।

दून में मानसून की पहली तेज बारिश कि वजह से पूरा शहर पानी-पानी हो गया। लगभग छह घंटे की भारी बारिश के कारण सड़कों पर बहुत पानी बहने लगा और चौराहे तालाब में बदल गए। स्मार्ट सिटी दून का ड्रेनेज सिस्टम पूरी तरह फेल हो गया। बारिश का पानी नालियों से ओवरफ्लो होकर सड़कों पर जमा हो गया, जिससे जाम की समस्या पैदा हो गई और आवागमन बाधित हो गया। कई प्रमुख क्षेत्रों में दुकानों और घरों में भी पानी घुस गया।

देहरादून के शहरी इलाके जलमग्न

हर बार की तरह इस वर्षाकाल में भी दूनवासियों की फजीहत शुरू हो गई है। मूसलधार वर्षा के बीच दर्शनलाल चौक, बुद्धा चौक, दून अस्पताल चौक, प्रिंस चौक, रेलवे स्टेशन गेट समेत शहर के मुख्य मार्ग तालाब में तब्दील नजर आए। नालियों के जगह-जगह चोक होने और संकरी होने के कारण पानी ओवरफ्लो होकर सड़कों पर बहता रहा।

दोपहर में जगह-जगह हुए जलभराव से शहर में जाम भी लगा रहा। वहीं, पैदल राहगीरों को भी आवाजाही में खासी मशक्कत का सामना करना पड़ा। आइएसबीटी चौक पर फिर वही आलम दिखा, नालियों से वर्षा का पानी सड़क पर आ गया और सड़क पूरी तरह जलमग्न हो गई। इसके अलावा शहर के कई प्रमुख मार्गों पर यही स्थिति रही।

दर्शनलाल चौक के आस – पास के दुकानों में घुसा पानी

दर्शन लाल चौक और बुद्धा चौक से आने वाली भारी वर्षा के पानी से यहां की सड़कें भर गईं। इससे कई दुकानों में पानी घुस गया। यहां से पानी दून अस्पताल की ओर बहता रहा। नगर निगम के पूर्व नेता प्रतिपक्ष अशोक वर्मा ने बताया कि ड्रेनेज सिस्टम में खामी होने के कारण दर्शनलाल चौक पर जलभराव हो रहा है। लैंसडौन चौक से बुद्धा चौक तक की नाली दर्शनलाल चौक से जुड़ी हुई है, और घंटाघर से भी वर्षा का पानी यहीं आता है। नालियों की चौड़ाई कम होने से पानी रोड पर बह रहा है, इस समस्या का स्थायी समाधान करने की जरुरत है |

अधिकारी कर रहे मनमानी , विधायक जी नाराज़

राजपुर रोड के विधायक खजानदास ने दर्शनलाल चौक और आसपास के क्षेत्रों में जलभराव के लिए अधिकारियों को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने बताया कि कई बार ड्रेनेज सिस्टम को ठीक करने के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया गया, लेकिन अभी तक इस समस्या का समाधान नहीं हुआ है।

उन्होंने बताया कि दर्शनलाल चौक से सहारनपुर चौक तक 34 करोड़ रुपये की लागत से नया ड्रेनेज सिस्टम स्थापित किया जाना था, लेकिन अभी तक इस पर कार्रवाई नहीं हुई है। उन्होंने इस संबंध में शीघ्र बैठक करने की मांग की है।

शहर के अधूरे काम ,बदहाल नाले की वजह से पानी हुआ जाम

हरिद्वार रोड पर ग्रीन बिल्डिंग के निर्माण स्थल के बाहर रोडी-बजरी के कारण नालियां बंद हो गईं और वर्षा का पानी सड़क पर बहता रहा। आराघर चौक पर नाली ओवरफ्लो होने से सड़क पूरी तरह जलमग्न रही। धर्मपुर चौक से सब्जी मंडी तक सड़क तालाब बन गई।

ओल्ड डालनवाला, इंदर रोड, इंद्रा मार्केट, सहारनपुर रोड आदि में भी जलभराव रहा। सहारनपुर चौक के पास निर्माण सामग्री के कारण जल निकासी नहीं हो सकी। लालपुल कारगी मार्ग पर भी नालियां बंद हो गईं, जहां पर वर्षा का पानी सड़कों पर बह रहा है।

जलभराव के दौरान एक बिजली के खंभे पर दौड़ा करंट ,मचा हडकंप

प्रिंस चौक के पास जलभराव के समय एक बिजली के खंभे पर करंट दौड़ने लगा। इसके बाद वहां के दुकानदारों में हलचल मच गई। उन्होंने तुरंत नगर निगम के कंट्रोल रूम में सूचना दी। इसके बाद जल निकासी के लिए शटडाउन किया गया।

मानसून 2024 के दौरान दून में भारी वर्षा से शहर के कई क्षेत्र जलमग्न हो गए हैं। इसके साथ ही बिजली के खंभों पर करंट दौड़ने की आशंका भी है। मंगलवार को प्रिंस चौक के पास एक खंभे पर करंट दौड़ने से दुकानदारों को हल्का सा झटका लगा। विजली विभाग ने जनता से विशेष सतर्कता बरतने की अपील की है। मानसून के दौरान विभिन्न प्रार्थनाएं बरतने का आग्रह किया गया है ताकि बिजली से होने वाली हादसों से बचा जा सके।

सहस्रधारा और मालदेवता क्षेत्र में ग्रामीण मार्ग हुआ जाम

सहस्रधारा-कार्लीगाड-सरोना मार्ग और मालदेवता के पास कई ग्रामीण मार्ग मलबा से बाधित हो गए हैं। साथ ही, सेरकी-सिल्ला मार्ग पर भारी भूस्खलन के कारण वाहनों की आवाजाही रुक गई है। इस सूचना पर लोनिवि के माध्यम से जेसीबी ने सड़कों को खोलने का प्रयास किया।

मंगलवार को भानियावाला मुख्य मार्ग पर पंजाब नेशनल बैंक के पास से आने वाले बरसाती नाले में उफान आ गया और पानी देहरादून-ऋषिकेश हाईवे पर बहने लगा। इससे यातायात परेशान हो गया और लगभग दो से ढाई घंटे तक जाम बना रहा। इस दौरान जिलाधिकारी सोनिका भी ऋषिकेश से देहरादून आ रही थीं, वे भी इस जाम में फंस गईं। उन्होंने तत्काल पानी की निकासी और यातायात को सुधारने के लिए संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए।

देहरादून में दिनभर में 104 मिमी वर्षा

मौसम विभाग की चेतावनी के अनुसार, दून में मंगलवार को भारी मेघों ने भरी बरसात की। यह इस मौसम की पहली मूसलाधार वर्षा थी। सुबह नौ बजे से दोपहर बाद तीन बजे तक छह घंटे लगातार वर्षा हुई, जिसकी मात्रा कुल 104 मिमी थी। इसके अलावा, जौलीग्रांट क्षेत्र में 115 मिमी, झाझरा में 46 मिमी, ऋषिकेश में 43 मिमी, विकासनगर में 36 मिमी वर्षा दर्ज की गई।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

error: Content is protected !!