Tuesday, July 16, 2024

31.1 C
Delhi
Tuesday, July 16, 2024

Homeप्रदेशगाड़ी से कूड़ा फेंकते पकडे गए तो लगेगा 10 हजार का जुर्माना,...

गाड़ी से कूड़ा फेंकते पकडे गए तो लगेगा 10 हजार का जुर्माना, अब नहीं बच पाएंगे CCTV की नज़र से

देहरादून– राजधानी में नगर निगम अब खुले में कूड़ा फेंकने वालों पर सख्त नियम अपना रहा है। जो भी व्यक्ति इस नियम का पालन नहीं करेगा उस पर भारी जुर्माना लगाया जा सकता है। यह दंड उनपर लगाया जायेगा जो अपने घर से कूड़ा लाते हैं और चलती हुई गाड़ी से सड़क पर फेंक देते हैं। ऐसे लोगों पर CCTV कैमरा के द्वारा नज़र रखा जायेगा। जो व्यक्ति इस नियम को तोड़ता है उस पर 10 हज़ार रुपये का जुर्माना लगेगा।

कैफे-रेस्टोरेंट, सब्जी वालों से लेकर बल्क वेस्ट वाले काम करने वाले लोग रात के अंधेरे में या सुबह-सुबह गाड़ी में कूड़ा लाकर सड़क पर फेंक देते हैं, जिससे बड़ी मात्रा में कूड़ा हो जाता है जिससे रास्ते में गंदगी हो जाती है। बरसात के दिनों में यह कूड़ा सड़क और नालियों में जलभराव का कारण बनता है, इसलिए निगम सख्ती करता नजर आ रहा है। वहीं शहर में दुकान की साफ-सफाई कर कूड़ा दुकान के सामने सड़क पर फेंकने वालों पर भी कार्रवाई हो रही है। स्वच्छता के दृष्टिकोण से निगम ने दुकानों पर कूड़ेदान रखने का आदेश दिया है। ऐसा न करने पर सफाई के बाद जिन दुकानों के सामने कूड़ा मिलेगा, उनपर भी जुर्माना लगाया जाएगा।

पानी फैलाने वालों के विरुद्ध क्या होगी कार्रवाई

देहरादून के नगर स्वास्थ्य अधिकारी डॉ अविनाश खन्ना ने मीडिया को जानकारी देते हुए कहा कि राजधानी को डस्टबिन फ्री सिटी बनाने के उद्देश्य से कूड़ेदानों को हटाकर कूड़ा गाड़ियां लगाई गई हैं, जिससे डोर-टू-डोर वेस्ट कलेक्शन का काम हो रहा है। निगम कई प्रतिष्ठानों द्वारा कूड़े के ढेर और गंदा पानी फैलाने वालों के विरुद्ध लाखों की चालानी कार्रवाई भी कर चुका है। उन्होंने बताया कि हरिद्वार रोड पर हमने एक आदमी को गाड़ी से कूड़ा लाकर निस्तारित करते हुए पकड़ा। जिसके बाद उसका 10 हजार रुपये का चालान काटा गया।

सीसीटीवी से रखी जाएँगी नज़र

उन्होंने आगे कहा कि ऐसे कई मामले होते हैं, जो पकड़ में नहीं आते है इसीलिए देहरादून में कुछ इलाकों में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे। देहरादून स्मार्ट सिटी के तहत इन कैमरों को लगाया जाएगा। कूड़ा उठाने में अभी तीन कंपनियां काम कर रही हैं।इन सभी गाड़ियों की मॉनिटरिंग जीपीएस के माध्यम से की जाती है। फिलहाल दो वार्डों में संस्थाएं काम कर रही हैं। डॉ अविनाश ने ये भी बताया कि सीएम हेल्पलाइन, फोन कॉल, व्हाट्सएप समेत नगर निगम की वेबसाइट पर मिली शिकायतों के बाद नगर निगम की टीम लगातार मोर्चे पर डटकर काम कर रही है।

तीन माह में कटा कई लाख का चालान

डॉ अविनाश खन्ना ने बताया कि पहले लोगों को जागरूक किया जा रहा है कि कूड़ा खुले में न फेंका जाए लेकिन कई लोग ये बात नहीं मान रहे हैं, तो उनके खिलाफ चालानी कार्रवाई की जा रही है। जानकारी के लिए बता दें कि 1 अप्रैल से 30 जून 2024 तक निगम ने 6,62,000 रुपये का जुर्माना वसूला गया है।

read more:गांवों में हो रहा पलायन, चीन-नेपाल सीमा पर खुलेंगी पुलिस चौकियां, सख्त होगी सुरक्षा व्यवस्था

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

error: Content is protected !!